इनायत Inaayat Lyrics in Hindi – Tanzeel Khan
इनायत Inaayat Lyrics in Hindi – Tanzeel Khan
  • Post author:

Inaayat Lyrics in Hindi by Tanzeel Khan is Latest Hindi song, sung by Tanzeel Khan featuring Ashi Khanna. Inaayat song lyrics are also penned down by Tanzeel Khan while music is given by Nemo. This song is released by Tanzeel Khan.

Inaayat Song Details:-
Song: Inaayat
Singer: Tanzeel Khan
Lyrics: Tanzeel Khan
Music: Nemo
Features: Tanzeel Khan & Ashi Khanna
Release date: Apr 7, 2021

Inaayat Lyrics in Hindi – Tanzeel Khan

मेरी ये दोनों आँखे
ढूंढे तुझी को ऐसे
जैसे हैं तुझसे ही अब वास्ता

दूरी ना तेरे मेरे
दिल दरमियाँ यूँ चाहूँ
फिर भी ना जाने क्यूँ हैं फासला

परवाह ना मेरी हैं जमीन
ना मेरा आसमान
में जाऊं जहाँ भी
में देखु तुझी को
ये कैसा नशा हैं

तू मेरी ही थी और मेरी ही रहे
में जाऊं जहाँ भी दुआएं ये मांगू
हमेशा यूँ रोजाना

जगा रहा तेरी याद मैं में
जाऊं जहाँ वहाँ पाऊँ तुझे
जुड़ी तुझी से हर ख़्वाहिशें
मेरी इनायत तू

जगा रहा तेरी याद मैं में
जाऊं जहाँ वहाँ पाऊँ तुझे
जुड़ी तुझी से हर ख़्वाहिशें
मेरी इनायत तू

मेरी इनायत तू
मेरी इनायत तू

मुझ में समाया तू हैं
तेरा में हूँ ऐसे
जैसे उन बादलों का आसमान

जिन कहानियों में मौजूदगी ना तेरी
फीकी हर एक वो दास्तान

ओ तू मेरी हैं राही
सुन मेरी जुबानी
में जाऊं जहाँ भी
में देखूं तुझी को
ये कैसी कहानी

मेरा कुछ भी नहीं था
में था यूँ अकेला
भूला सारे गमों को
जो मेरे जहाँ में
तू लाया सवेरा

जगा रहा तेरी याद मैं में
जाऊं जहाँ वहाँ पाऊँ तुझे
जुड़ी तुझी से हर ख़्वाहिशें
मेरी इनायत तू

जगा रहा तेरी याद मैं में
जाऊं जहाँ वहाँ पाऊँ तुझे
जुड़ी तुझी से हर ख़्वाहिशें
मेरी इनायत तू

मेरी इनायत तू
मेरी इनायत तू
मेरी इनायत तू
मेरी इनायत तू

सर पे चढी हैं तू कुछ अब यूँ मेरे
बातें तेरी गलत भी अब सही लगे
कहती हैं तू ना हैं कोई परी मगर
मुझको तो जन्नत तेरा घर लगे

Leave a Reply