काली रात Kaali Raat Lyrics in Hindi – Karan Randhawa ft. Simar Kaur
काली रात Kaali Raat Lyrics in Hindi – Karan Randhawa ft. Simar Kaur
  • Post author:

Kaali raat lyrics in hindi Karan randhawa. Kaali raat एक पंजाबी song हैं जिसे Karan randhawa और Simar kaur ने गाया हैं। Kaali raat song का music Raka ने दिया हैं जबकि compose किया हैं Karan randhawa ने। Kaali raat song के video में female lead के तौर पर Amulya rattan को लिया गया हैं। Kaali raat lyrics Karan randhawa ने लिखें हैं। Kaali raat song को youtube के “Geet Mp3” channel पर रिलीज़ किया गया हैं।

Kaali raat lyrics in hindi Karan randhawa
Kaali raat lyrics in hindi Karan randhawa

Kaali Raat Song Details:-
Title – Kaali Raat
Singer – Karan Randhawa
Lyrics – Karan Randhawa
Composer – Karan Randhawa
Music – Raka
Female lead – Amulya Rattan
Label – Geet Mp3
Release date – Feb 9, 2021

Kaali raat lyrics in hindi – Karan randhawa ft. Simar kaur

मिलने बुलाई जानी ऐ
किते हुँदा मेल जट्ट तों
ओ सारा टाइम लंघे यारा नाल नी
किते हुँदा वेल जट्ट तों

थाने ते कचेहरी तों ना बेल मिलदा
कर ले यकीन मेरी बात विच नी

ओ दिने मैनु फिरदी पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी
ओ दिने मैनु फिरदी पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी हो

थाने ते कचेहरी तों ना बेल मिलदा
कर ले यकीन मेरी बात विच नी

ओ दिने मैनु फिरदे पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी
ओ दिने मैनु फिरदे पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी हो

हो लभे ना बहाना किद्दां घरों बहार आउंगी
लभ जे चन्ना इको हथ भजी आउंगी
सीधा मैथों तैनू सच दस्सेया ना जावे
लारा नहीं तां दस्स फेर होर की मैं लाऊंगी

हो मेरा घर ना ऑफिस सरकारी सोहणेया
आ जावां मैं जिथे बस देके अर्ज़ी

हो रात विच दस तेरा की रखेया
दिने दिने सद ले तू जिथे मर्ज़ी
रात विच दस तेरा की रखेया
दिने दिने सद ले तू जिथे मर्ज़ी

जे नहीं आ यक़ीन मैनु देख मिलके
निकले जो सारा तेरा शक कुड़िये
किते वेख लेया मेरे नाल वैल पौंदी नू
माम्मे तैनू वी लेणगे नाले चक कुड़िये

सौरा घर बनु तेरा थाना कुड़िये
रूम होना तेरा हवालात विच नी

ओ दिने मैनु फिरदे पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी
ओ दिने मैनु फिरदे पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी हो

किन्ना चिर रातां नू हाय मेल होणगे
पता लगना नी केहड़ा साड्डे जड़ पे गया
रंधावेया वे मैनु किते मंग देंणगे
जे मापेया नू मेरे उत्ते शक पे गया

तू ना छेती छेती मसले नबेड़ अपने
फेर वेखीं दोहां दी हाय जान ठरदी

हो रात विच दस तेरा की रखेया
दिने दिने सद ले तू जिथे मर्ज़ी
ओ दिने मैनु फिरदे पुलिस लभदी
तैनू मिलूंगा मैं आके काली रात विच नी हो

Leave a Reply