मजा Mazaa Lyrics – B Praak
मजा Mazaa Lyrics – B Praak
  • Post author:

Mazaa Lyrics by B Praak is Latest Hindi song sung by B Praak and this brand new song is featuring Gurmeet Choudhary, Hansika Motwani. Mazza song lyrics are penned down by Jaani while music is also given by B Praak and video is directed by Arvindr Khaira. Mazaa Lyrics in Hindi and Mazaa Lyrics in English written here by Lyricstv.

Mazaa Song Details:-
Song: Mazaa Lyrics
Featuring: Gurmeet Choudhary & Hansika Motwani
Singer: B Praak
Lyrics: Jaani
Music: B Praak
Composer: Jaani
Video Directed By: Arvinder Khaira
Label: Saregama Music
Release date: Feb 23, 2021

Mazaa Lyrics in Hindi – B Praak

मैं ग़ैरों की बाँहों में देखा है सो के
सच बताएं मज़ा आ गया
तू तू है मेरी जां कोई तुझसा कहीं ना
ली उनकी जो खुशबू समझा गया

मैं ग़ैरों की बाँहों में देखा है सो के
सच बताएं मज़ा आ गया
तू तू है मेरी जां कोई तुझसा कहीं ना
ली उनकी जो खुशबू समझा गया

भटक गए थे हम एक शाम को
किया है ख़राब, ख़राब तेरे नाम को
क्यों दिल तेरा तोड़ा ये पूछने कल तो
सपने में मेरे ख़ुदा आ गया

मैं ग़ैरों की बाँहों में देखा है सो के
सच बताएं मज़ा आ गया
तू तू है मेरी जां कोई तुझसा कहीं ना
ली उनकी जो खुशबू समझा गया

दरिया ये दरिया, दरिया ना होता
ना होता जो इसका किनारा
अकल ठिकाने आयी हमारी
तुमसे बिछड़ कर ओ यारा

दरिया ये दरिया, दरिया ना होता
ना होता जो इसका किनारा
अकल ठिकाने आयी हमारी
तुमसे बिछड़ कर ओ यारा

रात को निकला था तेरी गली से
ठोकर मैं खा कर सुबह आ गया

मैं ग़ैरों की बाँहों में देखा है सो के
सच बताएं मज़ा आ गया
तू तू है मेरी जां कोई तुझसा कहीं ना
ली उनकी जो खुशबू समझा गया

ये आखरी गलती थी आखरी मौका
दे दे ना मुझको तू साकी
अब तेरे पैरों में काटेंगे यारा
जितनी भी ज़िन्दगी है बाकी

ये आखरी गलती थी आखरी मौका
दे दे ना मुझको तू साकी
अब तेरे पैरों में काटेंगे यारा
जितनी भी ज़िन्दगी है बाकी

हो जानी के अंदर जो जानी आवारा था
जानी वो खुद ही जला आ गया

मैं ग़ैरों की बाँहों में देखा है सो के
सच बताएं मज़ा आ गया
तू तू है मेरी जां कोई तुझसा कहीं ना
ली उनकी जो खुशबू समझा गया..!

Mazaa Lyrics in English – B Praak

Main Gairon Ki Baahon Mein Dekha Hai So Ke
Sach Batayein Mazaa Aa Gaya
Tu Tu Hai Meri Jaan Koi Tujh Sa Kahin Na
Li Unki Jo Khushboo Samajh Aa Gaya

Main Gairon Ki Baahon Mein Dekha Hai So Ke
Sach Batayein Mazaa Aa Gaya
Tu Tu Hai Meri Jaan Koi Tujh Sa Kahin Na
Li Unki Jo Khushboo Samajh Aa Gaya

Bhatak Gaye Thhe Hum Ek Shaam Ko
Kiya Hai Kharaab, Kharaab Tere Naam Ko
Kyun Dil Tera Toda Yeh Puchne Kal To
Sapne Mein Mere Khuda Aa Gaya

Main Gairon Ki Baahon Mein Dekha Hai So Ke
Sach Batayein Mazaa Aa Gaya
Tu Tu Hai Meri Jaan Koi Tujh Sa Kahin Na
Li Unki Jo Khushboo Samajh Aa Gaya

Dariya Yeh Dariya, Dariya Na Hota
Na Hota Jo Iska Kinara
Akal Thikaane Aayi Hamaari
Tumse Bichad Kar Oh Yaara

Dariya Yeh Dariya, Dariya Na Hota
Na Hota Jo Iska Kinara
Akal Thikaane Aayi Hamaari
Tumse Bichad Kar Oh Yaara..

Raat Ko Nikla Tha Teri Gali Se
Thokar Main Kha Ke Subah Aa Gaya

Main Gairon Ki Baahon Mein Dekha Hai So Ke
Sach Batayein Mazaa Aa Gaya
Tu Tu Hai Meri Jaan Koi Tujh Sa Kahin Na
Li Unki Jo Khushboo Samajh Aa Gaya

Yeh Aakhiri Galti Thi Aakhiri Mauka
De De Na Mujh Ko Tu Saaki
Ab Tere Pairon Mein Kaatenge Yaara
Jitni Bhi Zindagi Hai Baaki

Yeh Aakhiri Galti Thi Aakhiri Mauka
De De Na Mujh Ko Tu Saaki
Ab Tere Pairon Mein Kaatenge Yaara
Jitni Bhi Zindagi Hai Baaki

Ho Jaani Ke Andar Jo Jaani Aawara Tha
Jaani Woh Khud Hi Jala Aa Gaya

Main Gairon Ki Baahon Mein Dekha Hai So Ke
Sach Batayein Mazaa Aa Gaya
Tu Tu Hai Meri Jaan Koi Tujh Sa Kahin Na
Li Unki Jo Khushboo Samajh Aa Gaya..!

Leave a Reply